Categories
India News

क्या फिर लग सकता है लॉकडाउन? कोविड-19 पर कल PM मोदी करेंगे मुख्यमंत्रियों से बात



<p style=”text-align: justify;”>प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी राज्य और केन्द्र शासित प्रदेशों के मुख्यमंत्रियों के साथ मंगलवार को वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के जरिए बैठक करेंगे. समाचार एजेंसी एएनआई ने यह खबर दी है. ऐसा माना जा रहा है कि इस बैठक के दौरान प्रधानमंत्री दिल्ली, महाराष्ट्र, केरल, पश्चिम बंगाल और राजस्थान समेत

Categories
India News

भारी आलोचना के बीच केरल सरकार ने रोका विवादित पुलिस संशोधन अध्यादेश



<p style=”text-align: justify;”>केरल की सत्तारूढ़ सीपीआई (एम) सरकार की काफी आलोचना के बाद राज्य के मुख्यमंत्री पी. विजयन ने सोमवार को विवादित केरल पुलिस संशोधन अध्यादेश पर फिलहाल रोक लगा दी है. उनकी सरकार के इस कदम पर ‘मीडिया को दबाने’ के मकसद से ऐसा करने का आरोप लग

Categories
India News

On Devendra Fadnavis Remark That Karachi Will Be Part Of India Sanjay Raut Says First Bring Back PoK | ‘कराची होगा भारत का हिस्सा’ वाले फडणवीस के बयान पर बोले संजय राउत


भारतीय जनता पार्टी के नेता और महाराष्ट्र के पूर्व मुख्यमंत्री देवेन्द्र फडणवीस के ‘कराची एक दिन भारत का हिस्सा होगा’ वाले बयान पर शिवसेना नेता संजय राउत ने प्रतिक्रिया व्यक्त की है. राउत ने कहा कि हमें कराची की बजाय पहले कश्मीर के उन बाकी हिस्सों के बारे में सोचना चाहिए जिसे पाकिस्तान ने कब्जा कर रखा है.

समाचार एजेंसी एएनआई से बात करते हुए संजय राउत ने कहा- “सबसे पहले कश्मीर का वो हिस्सा लाएं जिसे पाकिस्तान ने कब्जा में ले रखा है. उसके बाद हम कराची जाएंगे।“” गौरतलब है कि एक दिन पहले फडणवीस ने कहा कि वह ‘अखंड भारत’ में विश्वास रखते हैं और एक दिन कराची भारत का हिस्सा होगा.  बांद्रा वेस्ट स्थित एक कराची नाम के स्वीट दुकान के नाम पर शिवसेना नेता की तरफ से आपत्ति जताने और उसका नाम बदलने के लिए कहने के वीडियो वायरल होने पर फडणवीस अपनी प्रतिक्रिया दे रहे थे.

समाचार एजेंसी एएनआई के मुताबिक, “नीतिन नंदगांवकर उस वीडियो में यह कहते हुए सुनाई पड़ रहे हैं- आपको नाम बदलना होगा, इसके लिए हम आपको समय दे रहे हैं. कराची का नाम बदलकर कुछ मराठी में रख लें.”


शिवसेना नेता ने जिरह करते हुए दुकान के मालिक से कहा कि वे चाहें तो दुकान का नाम कुछ भी रख लें, अपने पूर्वजों का नाम ही रख लें, लकिन कराची नाम बिल्कुल न रखें क्योंकि यह नाम आतंकियों के साथ जुड़ा हुआ है. दुकान मालिक नंदगांवकर को यह समझाने का प्रयास करता हैं कि उस दुकान का अब कराची से कोई संबंध नहीं है, लेकिन शिवसेना नेता कहते हैं कि उन्हें खुद इसके नाम में ही दिक्कत है. वह दुकान मालिक से यह कहते हुए दिखाई दे रहे हैं- “हम आपको नाम देते हैं, आपको दुकान का नाम बदलना ही होगा क्योंकि यह पाकिस्तान से जुड़ा है. इसे कराची से बदलकर कुछ मराठी में रखे लें.”

वीडियो के अंत में नंदगांवकर दुकान मालिक से यह कहते हैं कि दुकान का नाम बदलने में जो उनकी मदद की जरूरत होगी वे सहायता करेंगे लेकिन दुकान का नाम और सरकारी रिकॉर्ड में भी यह बदलना चाहिए. उन्होंने यह भी कहा कि वे फिर 15 दिनों क बाद यहां पर आएंगे.

ये भी पढ़ें: मुंबई के कराची स्वीट पर शिवसेना को आपत्ति, कहा- कोई मराठी नाम रखो, Video वायरल  



Categories
India News

COVID-19: Who Will Get First Vaccine? Health Minister Harsh Vardhan Answers


नई दिल्ली: दुनिया में कोरोना संक्रमण का ग्राफ तेजी से ऊपर की ओर बढ़ रहा है. कोरोना वायरस से बचाव के लिए सभी को वैक्सीन का इंतजार है. अब ये इंतजार जल्दी खत्म हो सकता है. इस बीच स्वास्थ्य मंत्री डॉक्टर हर्षवर्धन ने एक बार बताया है कि भारत में वैक्सीन आने पर सबसे पहले किन लोगों को दी जाएगी.

एक निजी न्यूज चैनल से स्वास्थ्य मंत्री डॉक्टर हर्षवर्धन ने कहा कि सबसे पहले हेल्थ वर्कर को कोरोना वैक्सीन दी जाएगी. इसके बाद फ्रंट लाइन वर्कर, पुलिसकर्मा और पैलामिलिट्री फोर्स को वैक्सीन दी जाएगी. उन्होंने आगे कहा कि इसके बाद फिर 65 साल से ज्यादा उम्र के लोगों को वैक्सीन लगेगी. फिर 50 साल से ज्यादा उम्र वाले लोगों के ग्रुप को और फिर आखिरी में कोमर्बिडिटी के मरीजों को दी जाएगी.

जल्द कोविड वैक्सीन मिलने की संभावना

दरअसल, भारत को जनवरी-फरवरी में बहुत सी एंटी कोविड वैक्सीन मिलने की संभावना है. भारत सरकार द्वारा पुणे स्थित सीरम इंस्टीट्यूट ऑफ इंडिया (SII) को ऑक्सफोर्ड यूनिवर्सिटी और फॉर्मा कंपनी एस्ट्राजेनेका द्वारा मिलकर बनाई जा रही कोरोना वायरस की संभावित वैक्सीन के लिए आपात मंजूरी दे सकता है.

वहीं भारत बायोटेक की कोवैक्सीन को चरण I और II परीक्षणों के डाटा को सब्मिट करने के बाद आपातकालीन मंजूरी मिल सकती है. नियामक सूत्रों के मुताबिक भारत बायोटेक वैक्सीन के लिए डेटा प्रकाशित करने की प्रक्रिया में है जो अब भारत में चरण 3 परीक्षणों में है. इसलिए, फरवरी तक दो टीके उपलब्ध हो सकते हैं.

एक अधिकारी के अनुसार “अगर सब कुछ योजना के अनुसार हो जाता है और कंपनी (SII) दिसंबर में आपातकालीन प्राधिकरण को सुरक्षित करने का प्रबंधन करती है, तो हम जनवरी-फरवरी तक पहले टीके की उम्मीद कर रहे हैं. इसके साथ ही लाभार्थियों के पहले सेट की भी पहचान हो गई है.”

ये भी पढ़ें-

Exclusive: कोरोना को लेकर स्वास्थ्य मंत्री हर्षवर्धन ने दिए ABP न्यूज़ के सवालों के जवाब, जानिए देश में कब आएगी वैक्सीन

ऑक्सफोर्ड की वैक्सीन 70 फीसदी प्रभावी, क्लीनिकल ट्रायल के नतीजे आए पॉजिटिव

Categories
India News

सुरक्षा एजेंसियों का खुलासा,सुरंग के जरिए नगरोटा में घुसे थे आतंकी, देखिए पाकिस्तानी साजिश की स्टोरी



सुरक्षा एजेंसियों का खुलासा,सुरंग के जरिए नगरोटा में घुसे थे आतंकी, देखिए पाकिस्तानी साजिश की स्टोरी

Categories
India News

करोना की मार: लखनऊ-दिल्ली तेजस एक्सप्रेस आज से बंद, कल से अहमदाबाद-मुंबई रूट की तेजस रद्द



<p style=”text-align: justify;”>कोरोना संकट के चलते देश की पहली कॉर्पोरेट ट्रेन तेजस एक्सप्रेस को पर्याप्त यात्री न मिलने के कारण इस हफ़्ते से बंद किया जा रहा है. आज से लखनऊ-दिल्ली और कल यानी 24 नवम्बर से अहमदाबाद-मुंबई तेजस ट्रेन को अगले आदेश तक के लिए रद्द कर दिया

Categories
India News

India Coronavirus Cases And Death Updates 23 November 2020


नई दिल्ली: भारत में लगातार 16वें दिन कोरोना के 50 हजार से कम नए मामले दर्ज किए गए हैं, जिसके बाद संक्रमण के कुल मामले 91 लाख के पार पहुंच गए. देश में पिछले 24 घंटे में 44,059 नए संक्रमित मरीज आए हैं. वहीं 511 लोग कोरोना से जिंदगी की जंग हार गए. अच्छी बात ये है कि बीते दिन 41,024 मरीज कोरोना से ठीक भी हुए हैं. कोरोना मामले बढ़ने की ये संख्या दुनिया में अमेरिका के बाद सबसे ज्यादा है. वहीं मौत की संख्या दुनिया में चौथे नंबर पर है.

स्वास्थ्य मंत्रालय के ताजा आंकड़ों के अनुसार, भारत में कोरोना के कुल मामले बढ़कर 91 लाख 40 हजार हो गए हैं. इनमें से अब तक एक लाख 33 हजार 738 लोगों को अपनी जान गंवानी पड़ी है. कुल एक्टिव केस बढ़कर चार लाख 43 हजार पर आ गए. पिछले 24 घंटे में एक्टिव केस की संख्या 2524 बढ़ गई. अब तक कुल 85 लाख 62 हजार लोग कोरोना को मात देकर ठीक हो चुके हैं. पिछले 24 घंटे में 41,024  मरीज कोरोना से ठीक हुए.

26 राज्यों और केंद्र शासित प्रदेशों में एक्टिव केस 20,000 से कम हैं और 9 राज्यों और केंद्र शासित प्रदेशों में एक्टिव केस 20,000 से ज़्यादा हैं. भारतीय चिकित्सा अनुसंधान परिषद (ICMR) के अनुसार, देश में 22 नवंबर तक कोरोना वायरस के लिए कुल 13 करोड़ 25 लाख सैंपल टेस्ट किए गए, जिनमें से 8.49 लाख सैंपल कल टेस्ट किए गए. पॉजिटिविटी रेट सात फीसदी है.

मृत्यु दर और रिकवरी रेट

महाराष्ट्र, कर्नाटक, केरल, आंध्र प्रदेश और तमिलनाडु में कोरोना वायरस के एक्टिव केस, मृत्यु दर और रिकवरी रेट का प्रतिशत सबसे ज्यादा है. राहत की बात है कि मृत्यु दर और एक्टिव केस रेट में लगातार गिरावट दर्ज की जा रही है. इसके साथ ही भारत में रिकवरी रेट भी लगातार बढ़ रहा है. फिलहाल देश में कोरोना से मृत्यु दर 1.46 फीसदी है जबकि रिकवरी रेट 93.70 फीसदी है. एक्टिव केस 5 फीसदी से भी कम है.

सबसे ज्यादा एक्टिव केस महाराष्ट्र में हैं. एक्टिव केस मामले में दुनिया में भारत का छठा स्थान है. कोरोना संक्रमितों की संख्या के हिसाब से भारत दुनिया का दूसरा सबसे प्रभावित देश है. रिकवरी दुनिया में सबसे ज्यादा भारत में हुई है. मौत के मामले में अमेरिका और ब्राजील के बाद भारत का नंबर है.

ये भी पढ़ें-

दुनिया में कोरोना के 24 घंटे में 4.87 लाख नए केस आए, अबतक करीब 6 करोड़ लोग वायरस से संक्रमित

अमेरिका में सवा करोड़ से ज्यादा कोरोना संक्रमित, 24 घंटे में 1.35 लाख नए केस आए, 864 की गई जान

Categories
India News

Tradition Of Superstition For Obtaining Children Women Lying On The Ground Dhamtari Chhattisgarh


धमतरी: संतान की चाह हर पति-पत्नी को होती है. वहीं बच्चे की इस चाह में इंसान कई बार अंधविश्वास का सहारा भी ले लेता है. इसका एक और नमूना सामने आया है. मामला छत्तीसगढ़ के धमतरी का है, जहां से एक मेले की हैरान करने वाली तस्वीरें सामने आई हैं. संतान प्राप्ति के लिए धमतरी में अंधविश्वास की परंपरा देखने को मिली है.

यहां महिलाएं संतान प्राप्ति के लिए पेट के बल लेटती हैं और महिलाओं के ऊपर से बैगा (जनजाति) निकलते हैं. ऐसी मान्यता है कि बैगा के पैर पड़ने से मन्नत पूरी हो जाती है. दिवाली के अगले शुक्रवार को ऐसी पंरपरा देखने को मिलती है. वहीं इस बार जब कोरोना वायरस का कहर चारों तरफ देखने को मिल रहा है, तब भी कोरोना काल में यहां हजारों की संख्या में भक्त इकट्ठा हुए और कई महिलाएं इस अंधविश्वास की पंरपरा के तहत पेट के बल लेटी हुई देखी गईं.

संतान प्राप्ति के लिए अंधविश्वास वाली परंपरा

समाज को जकड़ता अंधविश्वास का ये मकड़जाल छत्तीसगढ़ के धमतरी में लोगों पर फैला है, जहां अंगारमोती मंदिर में दिवाली के अगले शुक्रवार को अंधविश्वास का खेल चलता है. यहां तमाम महिलाएं अपने हाथों में नारियल, अगरबत्ती और नींबू लेकर मुख्य बैगा का इंतजार करती हैं.

मंदिर के ट्रस्टी डीआर ठाकुर का कहना है कि जैसे ही बैगा अपने दल बल के साथ आते हैं तो ये सारी महिलाएं जमीन पर पेट के सहारे लेट जाती है. यहां बैगा तेजी से पेट के बल लेटी इन महिलाओं को कुचलते हुए चले जाते हैं. यहां के लोग मानते हैं कि बैगा का पैर जिन महिलाओं पर पड़ता है उन्हें संतान प्राप्ति होती है. बता दें कि अंगारमोती की गंगरेल के तट पर बने अधिष्ठात्री माता के इस मंदिर में हर साल इसी तरह अंधभक्ति में लीन लोग अपनी मन्नत लेकर पहुंचते हैं.

यह भी पढ़ें:

उज्जैन में अंधविश्वास के चलते दो सगे भाइयों ने की आत्महत्या, पढ़ें चौंका देने वाली खबर

Categories
India News

PM Modi May Hold Meeting With States To Review Coronavirus Current Situation Discussion On Vaccine Possible


नई दिल्ली: देश के कुछ राज्यों में कोरोना के मामले बढ़ रहे हैं. ऐसे में मंगलवार 24 नवंबर यानी आज पीएम नरेंद्र मोदी सभी राज्यों के मुख्यमंत्रियों के साथ बैठक करेंगे. ये बैठक वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के जरिए होगी. सुबह दस बजे से ये बैठक शुरू होगी. सूत्रों के मुताबिक, इस बैठक में कोरोना वैक्सीन के वितरण की रणनीति पर भी चर्चा हो सकती है.

कुछ शहरों लगाया गया है कर्फ्यू

प्रधानमंत्री मोदी कोरोना की स्थिति की समीक्षा के लिए अब तक कई बार राज्यों साथ बैठकें कर चुके हैं. देश भर में कोरोना वायरस संक्रमण के मामले पिछले कुछ दिनों से 50 हजार के नीचे आ रहे हैं, वहीं कुछ राज्यों में मामले तेजी से बढ़े हैं. कुछ शहरों में तो रात का कर्फ्यू भी लगाया गया है.

भारत में पांच वैक्सीन तैयार होने की दिशा में

केंद्र की ओर से लगातार यह प्रयास भी हो रहे हैं कि जब भी कोरोना की वैक्सीन उपलबध होगी, उसके सुचारू वितरण की व्यवस्था हो सके. भारत में फिलहाल पांच वैक्सीन तैयार होने की दिशा में आगे बढ़ रहे हैं. इनमें से चार परीक्षण के दूसरे या तीसरे चरण में हैं जबकि एक पहले या दूसरे चरण में है.

भारत में कोरोना की स्थिति

देश में कोरोना संक्रमितों की कुल संख्या 91 लाख तक पहुंच गई है. पिछले 24 घंटे में 45 हजार 209 नए संक्रमित मरीज आए हैं. वहीं 501 लोग कोरोना से जिंदगी की जंग हार गए. अच्छी बात ये है कि बीते दिन 43 हजार 493 मरीज कोरोना से ठीक भी हुए हैं. कोरोना मामले बढ़ने की ये संख्या दुनिया में अमेरिका के बाद सबसे ज्यादा है. वहीं मौत की संख्या दुनिया में पांचवे नंबर पर है.

स्वास्थ्य मंत्रालय के ताजा आंकड़ों के अनुसार, भारत में कोरोना के कुल मामले बढ़कर 90 लाख 95 हजार हो गए हैं. इनमें से अब तक एक लाख 33 हजार लोगों को अपनी जान गंवानी पड़ी है. कुल एक्टिव केस बढ़कर चार लाख 40 हजार हो गए. पिछले 24 घंटे में एक्टिव केस की संख्या 1215 बढ़ गई. अब तक कुल 85 लाख 21 हजार लोग कोरोना को मात देकर ठीक हो चुके हैं. पिछले 24 घंटे में 43 हजार 493  मरीज कोरोना से ठीक हुए.

आगरा: शादी-समारोह शामिल हो सकेंगे सिर्फ 100 लोग, कोरोना प्रोटोकोल के उल्लंघन पर होगी कार्रवाई