Categories
India News

Baba Ka Dhaba Controversy Know What Kanta Prasad Says About Being Called Greedy FIR Lodged Against You Gaurav Vasan ANN


सोशल मीडिया पर वायरल हुई बाबा का ढाबा और गौरव वासन की कहानी ने अब एक अलग मोड़ ले लिया है. बाबा उर्फ कांता प्रसाद ने वीडियो वायरल करने वाले गौरव वासन के खिलाफ मालवीय नगर पुलिस थाने में लोगों द्वारा दिए गए दान में हेरफेर के चलते शिकायत दर्ज करवाई थी, जिस पर अब मालवीय नगर पुलिस ने आईपीसी की धारा 420 के तहत चीटिंग का मुकदमा दर्ज कर दिया है.

गौरव पर बाबा ने लगाए ये आरोप

31 अक्टूबर को शिकायत दर्ज करने के बाद बाबा ने मीडिया से बात करते हुए बताया, “हमारे साथ गौरव ने धोखा किया है. बात ये है कि गौरव ने अपना खाता, अपनी बीवी और अपने भाई का खाता दिया था. एक वीडियो आई थी जिसमे गौरव किसी से कह रहे थे कि बाबा के खाते में 20 लाख रुपये आए है, तो 20 लाख हमारे खाते में आए है यह उन्हें कैसे पता, हमारा खाता तो सील है. जब उनके 3 खाते थे तो पैसे उनके खाते में आए वरना उन्हें पता कैसे चलता. दो लाख रुपये 26 तारीख को दिए है. उन्होंने खाता नंबर तब हटाया जब उन्हें लगा भेद खुल जाएगा. जैसे आप वीडियो में देख रहे है ऐसे ही हमें पता चला. पुलिस में जो शिकायत दर्ज कराई है वह वकील साहब जाने या तुशांत (उनका मैनेजर) जाने. हम तो पड़े लिखे है नहीं, हमे नहीं पता, हमे बस पता है कि जो पेपर में आया वही सब लिखा कंप्लेंट में.”

लक्ष्य चौधरी का वीडियो आने के बाद खुला मामला

यह पूरा मामला चर्चा में तब आया जब 25 अक्टूबर को लक्ष्य चौधरी नाम के यूट्यूबर ने एक वीडियो बनाई जिसमें गौरव पर यह आरोप लगाया गया कि उन्होंने बाबा के साथ पैसे का गबन किया. गौरव के पास ज़्यादा पैसे आए है जिसको उन्होंने बाबा को नहीं दिया. इसी वीडियो में बाबा कांता प्रसाद और उनके मैनेजर ने भी अपनी बात रखी, यह कहते हुए की गौरव ने उन्हें पैसे नहीं दिए. लक्ष्य चौधरी के वीडियो जारी करने के अगले ही दिन गौरव बाबा के पास पुहंचे और उन्हें 2 लाख 33 हज़ार 677 रुपये का चेक दिया.

इस पूरे मामले में यूट्यूबर गौरव वासन ने भी अपना पक्ष सामने रखा था और साथ ही अपने एकाउंट्स की डिटेल्स भी शेयर की. उन्होंने यह भी बताया कि उन्होंने अपनी एकाउंट डिटेल्स पहले दिन लोगो के साथ शेयर की जिसमें लोगों ने बाबा की मदद के लिए पैसे भेजे थे, गौरव का यह भी कहना है कि उन के पास पेटीएम नहीं है इसलिए उन्होंने अपनी पत्नी की पेटीएम डिटेल्स शेयर की. पेटीएम में भी लोगो ने पैसे भेजे, जो सारा पैसा बाबा को दे दिया गया है.

बाबा के वकील ने दी ये सफाई

कांता प्रसाद के वकील प्रेम जोशी का कहना है कि बाबा और गौरव के बीच मिसकम्युनिकेशन हो गया जो सोशल मीडिया पर और बड़ा ही होता जा रहा है. उन्होंने यह भी दोहराया कि बाबा के खिलाफ कई तरह की बातें लोग करने लगे हैं, पब्लिक प्रेशर बन रहा है. अभद्र भाषा का प्रयोग बाबा के खिलाफ किया जा रहा है. बाबा के बारे में कहा जा रहा है कि वो लालची हो गए हैं. लेकिन यदि ऐसा होता तो आज इतना पैसा आने के बाद खाना बनाने रोज दुकान नही जाते. गौरव ने वीडियो में कहा कि बाबा के खाते में 20 लाख रुपये आए हैं, तो इन्होंने यह सवाल पूछा कि गौरव को कैसे पता चला कि 20 लाख रुपये आये हैं. मिसकम्युनिकेशन हो गई और सोशल मीडिया पर बात फैल गई.

वो यह भी कहते हैं, “गौरव जी ने 7-10 अक्टूबर तक कि बैंक स्टेटमेंट सोशल मीडिया पर डाली हैं, लेकिन हमने उनसे 10-25 तक का हिसाब मांगा है. जब उन्हें ट्रोल करना शुरू कर दिया गया तो उसके बाद 26 अक्टूबर को वो चेक देने आए. उससे पहले गौरव 12, 15 और 22 अक्टूबर को बाबा की दुकान पर आए थे लेकिन पेमेंट देकर नहीं गए.

यूट्यूबर गौरव का एक और क्लेम झुठलाते हुए बाबा के वकील बताते हैं कि बाबा के पास पहले दिन से ही एकाउंट था, जो गौरव ने अपने वीडियो में भी गलत दिखाया. वही दूसरी और बाबा का कहना यह है की 80 साल की उम्र में यह सब देखना पड़ेगा, उन्होंने कभी सोचा भी न था. सच आखिर क्या है वो तो अब पुलिस की जांच पड़ताल के बाद ही मालूम पड़ेगा.

बाबा का ढाबा को मशहूर करने वाले यूट्यूबर के खिलाफ FIR दर्ज, धोखाधड़ी का आरोप

बाबा का ढाबा विवाद: घपले के आरोप से दुखी यूट्यूबर गौरव वासन का दावा- ‘मैंने पूरे पैसे दिए, बैंक स्टेटमेंट भी शेयर की’

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *